Skip to content

WS Digital

Follow us:

Home » SWOT Analysis क्या है, SWOT Analysis के फायदे / उदाहरण

SWOT Analysis क्या है, SWOT Analysis के फायदे / उदाहरण

swot analysis

यदि आप मार्केटिंग या बिजनेस के विषय में रुचि रखते हैं, तो आपने SWOT Analysis के बारे में तो जरूर सुना होगा। यदि आप इस विषय के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आज के इस ब्लॉग के माध्यम से हम आपको SWOT Analysis से जुड़ी हर एक जानकारी देने वाले है।

SWOT Analysis क्या है ?

यह एक प्रकार का Analysis होता है, जो किसी भी बिजनेस, ऑर्गेनाइजेशन या कंपनी का किया जा सकता है। इसके अलावा आप अपने खुद का भी या फिर अपनी वेबसाइट का या फिर अपने सोशल मीडिया हैंडल का भी SWOT Analysis कर सकते हैं। 

SWOT Analysis के अंतर्गत आप अपनी कंपनी बिजनेस वेबसाइट आदि के बारे में Analysis और उसके बाद आप अपने बिजनेस की कमियों, ताकतों, खतरों आदि के बारे में जानकारी लेते करते हैं।

SWOT शब्द कुल 4 अक्षरों से मिलकर बना होता है, इसका मतलब निम्न होता है :-

S – Strength

W – Weaknesses

O – Opportunities

T – Threats

swot analysis

1. S – Strength

इसके अंतर्गत आप अपने बिजनेस की ताकतों को देखते हैं, कि आपकी बिजनेस की ताकत कौन कौन सी है। यह अलग-अलग बिजनेस पर निर्भर करता है, कि उसकी ताकत क्या हो सकती है। किसी बिजनेस की ताकत उसका अच्छी क्वालिटी का प्रोडक्ट हो सकता है, किसी बिजनेस की ताकत उसकी ब्रांड वैल्यू हो सकती है।

तो इस तरीके से आपको भी यह देखना है, कि आपके बिजनेस या आपकी वेबसाइट की ताकत क्या है। अगर हम वेबसाइट का उदाहरण दें, तो आपकी वेबसाइट का कंटेंट आपकी ताकत हो सकता है।

2. W – Weaknesses

इसके अंतर्गत आप अपने बिजनेस की कुछ कमियों के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं या फिर कमियों को देखते हैं। इसे अगर उदाहरण के माध्यम से समझाया जाए, तो आपकी सर्विस आपकी कमजोरी हो सकती है, कि आपकी सर्विस कस्टमर तक सही तरीके से नहीं पहुंच पा रही है, या फिर आपके पास अच्छे रिसोर्सेज नहीं है, जो आपकी एक कमी हो सकती है।

इसके अलावा किसी भी बिजनेस की कोई भी कमी हो सकती है, तो ऐसे में आपको यह देखना है, कि आपके बिजनेस के अंतर्गत क्या कमी है।

3. O – Opportunities

इसके अंतर्गत आपको यह देखना होता है कि कौन-कौन सी ऐसी अपॉर्चुनिटी होती है, जहां पर आपका बिजनेस काफी अच्छा चल सकता है। अगर आप एक फैशन ब्रांड है, तो फेस्टिवल सीजन आपके लिए सबसे अच्छी अपॉर्चुनिटी हो सकती है। इसके अलावा यदि आप AC मैन्युफैक्चरिंग कंपनी है, तो आपके लिए समर का सीजन अपॉर्चुनिटी हो सकता है।

तो अलग-अलग बिजनेस के लिए अलग-अलग अपॉर्चुनिटी होती है, जहां पर वह अपने बिजनेस को सबसे ऊपर ले जा सकता है, तो ऐसे में आपको भी इसके बारे में रिसर्च करनी है, कि आपके बिजनेस के लिए कौन-कौन सी अपॉर्चुनिटी आ सकती है।

4. T – Threats

इसके अंतर्गत आपको अपने बिजनेस के अंतर्गत आने वाले खतरे के बारे में देखना होता है, कि आपके बिजनेस के लिए क्या क्या खतरा हो सकता है। अगर उदाहरण की बात की जाए तो आपका कंपीटीटर आपका सबसे बड़ा खतरा हो सकता है, अधिकांश बिजनेस के लिए कंपटीशन ही उनका सबसे बड़ा खतरा होते हैं। इसके अलावा कस्टमर का बिहेवियर आपके लिए एक खतरा हो सकता है, क्योंकि कस्टमर का बिहेवियर काफी तेजी से बदलता रहता है। तो कस्टमर आपके बिजनेस के प्रति सोच रखता ही है, यह काफी महत्वपूर्ण होता है।

तो ऐसे में आपको भी अपने बिजनेस के अकॉर्डिंग रिसर्च करके अपने बिजनेस के लिए Threats को देखना होता है।

स्ट्रैंथ ओर वीकनेस एक प्रकार का इंटरनल फैक्टर होता है, जो पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है, तथा आप इसको कंट्रोल कर सकते हैं। इसके अलावा यह पूरी तरह से आपके द्वारा लिए गए निर्णय पर निर्भर करता है।

इसके अलावा अपॉर्चुनिटी और थ्रेड्स एक्सटर्नल फैक्टर होता है, जिस पर आपके कोई भी कंट्रोल नहीं होता है। क्योंकि अपॉर्चुनिटी और थ्रेड्स आपके बिजनेस के ऊपर कभी भी आ सकते हैं।

swot analysis

SWOT Analysis के फायदे 

1.  यदि कोई भी कंपनी अपना मार्केटिंग या डिजिटल मार्केटिंग प्लान तैयार करती है, तो उसको हमेशा SWOT Analysis को ध्यान में रखते हुए ही अपना मार्केटिंग प्लान तैयार करना चाहिए। तथा आपको अपने बिजनेस की स्ट्रेंथ पर फोकस करते हुए अपना मार्केटिंग प्लान तैयार करना चाहिए। यदि आप इसको मद्देनजर नहीं रखते हुए अपना मार्केटिंग प्लान तैयार करते हैं, तो यह आपको बैक फायर कर सकता है।

उदाहरण के लिए समझे, तो यदि आपकी कोई सर्विस और प्रोडक्ट कम्पनी है। लेकिन इनमें आपके प्रोडक्ट सर्विस की तुलना में काफी अच्छी है तथा वह मार्केट में काफी अच्छा परफॉर्म भी कर रहे हैं। तू जब भी आप अपना मार्केटिंग प्लान तैयार करते हैं, तो आपको अपने प्रोडक्ट के ऊपर ज्यादा फोकस करना है, ना कि अपनी सर्विस पर क्योंकि सर्विस आपकी ताकत नहीं एक कमजोरी है। तो इस तरह से आप अपने बिजनेस का SWOT Analysis करके अपना मार्केटिंग प्लान तैयार कर सकते हैं।

2. SWOT Analysis के माध्यम से आप अपने बिजनेस के बारे में पता कर सकते हैं कि आपका बिजनेस कितना ग्रो कर रहा है, आपको अपने बिजनेस के अंतर्गत किन किन बातों का ध्यान देना चाहिए।

3. इससे आपकी बिजनेस की कमियों के बारे में पता चलता है, तो आप उन कमियों पर काम करके अपने बिजनेस को और ज्यादा स्ट्रांग बना सकते हैं।

4. SWOT Analysis के अंतर्गत आप अपने बिजनेस के लिए आने वाले खतरों के बारे में भी देते हैं, तो आप उन खतरों के लिए प्रिपेयर हो सकते हैं।

SWOT Analysis का उदाहरण

तो अब हम एक उदाहरण के माध्यम से इसके बारे में अच्छी तरह से समझ लेते हैं। इसके लिए हम Vivo कंपनी का उदाहरण ले रहे हैं :-

1. Strengths

  • विवो कंपनी की सबसे बड़ी ताकत यह है कि आज के समय इंटरनेशनल मार्केट में एस्टेब्लिश मोबाइल कंपनी है, जिसके करोड़ों यूजर हैं। 
  • इसके अलावा वीवो कंपनी हर एक प्राइस रेंज के अंतर्गत फोन उपलब्ध करवाती है। तो ऐसे में यह कम से कम बजट वाले फोन भी उपलब्ध करवाती है तो अधिक से अधिक तथा प्रीमियम बजट वाले फोन भी उपलब्ध करवाती है।
  • आज के समय मार्केट के अंतर्गत वीवो का ब्रांड वैल्यू काफी अच्छा है।
  • विवो अपनी मार्केटिंग काफी अच्छी तरीके से कर रहा है, जिसके अंतर्गत बड़े से बड़े सेलिब्रिटी को स्पॉन्सर करने के साथ-साथ विवो दुनिया के टॉप स्पोर्ट्स इवेंट को भी सोशल कर रहा है। जिस कारण आज के समय विवो की ब्रांड भेजो काफी स्ट्रांग हो गई है।
  • वीवो की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट काफी स्ट्रांग है। आज के समय वीवो तीन देशों के अंतर्गत अपने मोबाइल को मैन्युफैक्चर करता है, जिसके अंतर्गत चाइना इंडिया और इंडोनेशिया का नाम शामिल है।

2. Weaknesses

  • आज के समय स्मार्टफोन मार्केट के अंतर्गत बहुत सारी कंपनियां आ रही है, और इसके अलावा यह कंपनियां लगातार इनोवेशन करती जा रही है, जो विवो की ग्रोथ को लिमिटेड कर सकता है।
  • विवो एप्पल और सैमसंग की तरह अधिक प्राइस वाले मोबाइल को सही तरीके से बेचने में सफल नहीं हो पाया है।

3. Opportunities

  • विवो भी एप्पल और सैमसंग की तरह अधिक प्राइस वाले मोबाइल को मार्केट में उतार कर अपने रेवेन्यू को काफी हद तक बढ़ा सकता है।
  • अभी तक विवो यूएस तथा यूरोप के मार्केट में इतना ज्यादा इंटर नहीं किया है तो यह उसके लिए भविष्य में काफी बड़ी अपॉर्चुनिटी हो सकती है, कि वह यूएस तथा यूरोप के मार्केट में अपने आप को स्ट्रांग करके अपनी ग्रोथ को काफी हद तक बढ़ाए।

4. Threats

  • मोबाइल मार्केट एक काफी प्राइस सेंसेटिव और काफी कॉम्पिटेटिव मार्केट होता है, जो विवो के लिए काफी बड़ा खतरा हो सकता है।
  • आज के समय लगातार अलग-अलग लोकल गवर्नमेंट नए-नए प्रकार के रूल रेगुलेशन लाती रहती हैं, जो विवो जैसी कंपनियों के लिए काफी खतरा हो सकता है। तथा यह इनके रेवेन्यू में भी इफैक्ट कर सकता हैं।

तो हमने यह पर Vivo का एक छोटा सा SWOT Analysis किया है, जिसके अंतर्गत हमने अलग-अलग चीजों के बारे में बात की है कि आज के समय वीवो की स्ट्रैंथ क्या है, क्या क्या वीवो की वीकनेस है, तथा वीवो के लिए आने वाले समय में कौन-कौन सी अपॉर्चुनिटी और थ्रेड्स हो सकते हैं।

हालांकि हमने यहां पर बहुत ही कम पॉइंट्स के बारे में आपको बताया है, क्योंकि हमें विवो कंपनी के बारे में इतनी ज्यादा जानकारी नहीं है। लेकिन हम अपने बिजनेस के लिए इसे पूरी डिटेल के अंतर्गत कर सकते हैं, क्योंकि हमारे पास अपनी बिजनेस रिलेटेड हर एक जानकारी होती है, तो ऐसे में हम अपने बिजनेस का SWOT Analysis और अधिक डिटेल के अंतर्गत कर सकते हैं।

धन्यवाद!

swot analysis

Leave a Reply

Your email address will not be published.